कपूर बनाने का उद्योग खोले Camphor Tablet Making Process, Machine & Business Ideas

कपूर बनाने का उद्योग खोलेः- Camphor Tablet Making Process, Machine & Business Ideas

दोस्तों नमस्कार! मैं हूँ शक्ति मिश्रा आज के इस लेख में मैं बताऊँगा कि आप कैसे अपने गाँव क्षेत्र में कपूर बनाने का उद्योग बड़ी सरलता से कर सकते हैं।
दोस्तों आप जानते ही है कि कपूर एक ऐसी चीज है जो सामान्यतः हर घर मे इस्तेमाल किया जाता है आज के इस लेख में मै बताऊँगा कि कपूर बनाने के लिये आवश्यक मशीन की कीमत क्या है? कहाँ-कहाँ से इसे खरीद सकते हैं, इसे बनाने मे रा मैटेलियल (कच्चा माल) कितना लगेगा, इसमे लागत कितनी आयेगी, कितना मुनाफा होगा, कैसे बाजार में बिकेगा। इस लेख को लास्ट तक पढ़ियेगा, ये सारी जानकारियाँ आज के इस लेख में आपको मिल जायेंगी।

दैनिक जीवन मे कपूर का इस्तेमालः- कपूर का इस्तेमाल विभिन्न क्षेत्रों मे किया जाता है जो निम्न प्रकार है।

1- धार्मिक परिपेक्ष्य मेः– कपूर एक ऐसा पदार्थ है जो लगभग प्रत्येक हिन्दू परिवार में पूजा-पाठ, धार्मिक अनुष्ठानों, आरती आदि अवसरों पर बहुतायत इस्तेमाल किया जाता है जिस घर में या जिस स्थान पर कपूर जलाया जाता है वहाँ का वातावरण शुद्ध एवं पवित्र माना जाता है ऐसी पौराणिक मान्यता है। ऐसा भी माना जाता है कि कपूर जलाने से मनुष्य की एकाग्रता को बढाने वाली शक्ति मुखरित हो उठती है। धार्मिक अनुश्रुतियों को आधार मानकर बात करें तो कपूर देवी-देवताओं को अत्यन्त प्रिय है। कपूर से उठने वाली लौ आस-पास स्थित नकारात्मक शक्तियों को दूर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है साथ ही साथ कपूर के प्रयोग से व्यक्ति की आत्मा की परिशुद्धि होती है, ऐसी लोकमान्यता है। कपूर का प्रयोग यज्ञ अनुष्ठान आदि की लकड़ी को जलाने में प्रयोग किया जाता है।

2- चिकित्सा के क्षेत्र मेः- चिकित्सा के क्षेत्र में कपूर का प्रयोग अहम् भूमिका निभाता है जो निम्नवत है-
क) दाँत सम्बन्धित रोगों मेः- दाँत में सड़न उत्पन्न होने पर दाँतों के मध्य भाग में एक गढ्ढा (खोड़रा) हो जाता है जिससे सम्बन्धित व्यक्ति के मसूढ़े में सूजन, दर्द मवाद आदि हो जाते हैं जो व्यक्ति को अत्यन्त पीड़ा देते हैं। कपूर के प्रयोग से पीड़ित व्यक्ति को काफी आराम मिलता है। ग्रामीण क्षेत्रों में आज भी कपूर से लोग दाँतों की बीमारियों को ठीक करते हैं।

ख) गठिया रोग मेः- गठिया रोग से पीड़ित व्यक्ति को सरसो के तेल में कपूर मिलाकर जोड़ो पर लगाने से बहुत आराम मिलता है। यह गठिया रोग के घरेलू उपचार की बड़ी ही सामान्य विधि है।

ग) दाद-खाज, खुजली हो जाने परः- दाद-खाज खुजली से पीड़ित हो जाने पर नारियल तेल में कपूर मिलाकर लगाने से जबरदस्त फायदा मिलता है इसका कारण यह है कि कपूर की प्रकृति ठण्डी होती है जो व्यक्ति के त्वचा पर शीतलता उत्पन्न करने का कार्य करती है।

घ) कटने अथवा जल जाने परः- शरीर के किसी भाग में चोट लग जाने रक्त निकलने या किसी भी प्रकार से जल जाने पर उस स्थान पर कपूर का प्रयोग करना बड़ा ही गुणकारी समझा जाता है। इससे व्यक्ति को तुरन्त राहत मिलती है।
ड़) तनाव व सिरदर्द होने परः- तनाव व सिरदर्द होने पर सम्बन्धित व्यक्ति को कपूर का लिक्विड बनाकर सिर पर लगाने से तनाव व सिरदर्द को दूर करने में सहायता मिलती है।

च) एड़ियाँ फटी होने परः- ऐसा सामान्य तौर पर देखा जाता है कि जब व्यक्ति की एड़ियाँ फट जाती हैं तो एड़ियों के उपचार के लिये गरम पानी मे कपूर डालकर उसमे कुछ देर तक पैरों को रखने से एड़ियों मे काफी आराम हो जाता है।

छ) बालों मे रुसी होने परः- व्यक्ति बालों की रुसी से निदान पाने के लिये नारियल तेल में कपूर को फेंटकर बालों की जड़ों में लगाता है जिससे रुसी सम्बन्धी समस्याओं का निदान हो जाता है।

ज) शरीर को तरोताजा रखने के लियेः- शरीर को तरोताजा रखने के लिये पानी में कपूर का घोल मिलाकर स्नान करने से शरीर में ताजगी एवं तन्दुरुस्ती का एहसास होता है।

कपूर बनाने की विधिः-

इसके लिये आपको सबसे पहले फुली आटोमेटिक कपूर मेकिंग मशीन खरीदनी होती है और इसे बनाने के लिये बाजार से कपूर की रा मैटेरियल खरीदनी होती है जिसका नाम है कपूर पाउडर या कम्फोर पाउडर कहते हैं। आप इस पाउडर की खरीददारी इण्डिया मार्ट से आनलाइन खरीद सकते हैं या बाजार में भी यह पाउडर आसानी से उपलब्ध है। इस मशीन में पाउडर डालने के लिये कीप जैसी जगह बनी  होती है। पाउडर को इस कीप के माध्यम से मशीन के अन्दर डालते हैं पाउडर डालने के लिये आप अपने हाथ या किसी सुविधाजनक तरीके का इस्तेमाल कर सकते हैं। छोटे-बड़े आकार में या मोटे पतले आकार में कपूर बनाने के लिये मशीन में विभिन्न साइज की डाई लगी होती है। अपनी आवश्यकतानुसार डाई को बदलकर कपूर का आकार परिवर्तित किया जा सकता है। इसके बाद मशीन का पावर स्विच आन करके कपूर निर्माण की प्रक्रिया प्रारम्भ की जा सकती है। मशीन चालू हो जाने के बाद समय-समय पर मशीन में कम्फोर पाउडर डालते रहते हैं और कपूर बनता रहता है इसके बाद उसे हाथ से हटाकर किनारे कर लेते हैं। इसके बाद बने हुए कपूर को आप डिब्बे में या प्लास्टिक में पैकिंग कर आसानी से बाजारों में बेच सकते हैं। इस बिजनेस को महिलायें भी आसानी से घर पर कर सकती हैं। इस मशीन को चलाने के लिये आपको कोई ट्रेनिंग नही लेना पड़ेगा क्योंकि इसका संचालन बहुत ही आसान है, इस मशीन को एक बच्चा भी चला सकता है।
कपूर बनाने के लिये मशीन व कच्चे माल की कीमतः-
मशीन का मूल्य                 =  55000 रुपये
एक किलो पाउडर का मूल्य        = 300 रुपये
मशीन की क्षमता एक घण्टे मे     = 10 किलो
मुनाफा प्रति किलो                  = 50 रुपये
अगर आप एक दिन में 40 किलो कपूर उत्पादन करते हैं तो आप 40 = 2000 रुपये तक एक दिन में मुनाफा कमा सकते है।
मशीन का रख-रखाव एवं मेन्टेनेन्सः- मशीन को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि जल्दी इसमे कोई दिक्कत नही आती है। बहुत से लोग दस-दस सालों से चला रहे हैं अभी तक कोई फाल्ट नही आया। और हाँ अगर कोई समस्या आ जाती है तो आप इसके पार्ट को कोरियर से मँगवा सकते हैं।

इसके अलावा आपका कोई सवाल है या सुझाव है तो आप हमें कमेन्ट कीजियै हम जरूर आपकी मदद करेंगे।

स्मार्ट आइडियाः- हमारा देश विभिन्नताओं में एकता वाला देश है। इस देश में सम्भावनाओं की दूर-दूर तक कहीं कोई कमी नहीं है बस आवश्यकता इस बात की है कि इन सम्भावनाओं पर शान्त मस्तिष्क से गम्भीरतापूर्वक विचार किया जाय तो हम यह पायेंगे कि विदेश या परदेश में जाकर नौकरी-मजदूरी के लिये दर-दर भटकने से कहीं ज्यादा बेहतर है कि अपने माटी में अपने लोंगों के बीच रहकर अपने परिश्रम के द्वारा अच्छी खासी आमदनी की जा सकती है। साथ ही साथ अपने लोगों से विछडनें का दुख भी नहीं होगा और इस प्रकार एक खुशहाल जीवन की बुनियाद रखी जा सकती है।

Hawai Chappal Making Business || Detergent Cake (Soap) Making Business|| Pen Making Process & Business || Paper Plate & Dona Making Business    || Candle Making business || shoes wholesale business || Textile Business || Top 5 Business Ideas In Low Investment || Phenyl Making Business || Detergent Powder Manufacturing Business ||  Wire Nail Manufacturing  || Camphor Tablet Making Business || Agarbatti Making Business

22 thoughts on “कपूर बनाने का उद्योग खोले Camphor Tablet Making Process, Machine & Business Ideas”

    1. Very motivational work,keep it on,i like it very much,please shakti mishra how to contact you,I want to run a business in Nepal ,how to do?

  1. Hello sir aap ke iss kaam ke liye salute kerta hu.
    Sir mujhe surat me dyeing & printing,rapier looms,water jet looms, digital prints ki factory lagani hai iska kya process hai or kya kya kerna hai please iski full information dijiye

  2. सर जी मुझे भी मशीन चाहिए कपूर बनाने के लिए
    मोबाइल 7355567819 है।

  3. सर जी मुझे भी मशीन चाहिए कपूर बनाने के लिए
    मोबाइल 7355567819 है।

  4. मैं कपूर बनाने का व्यवसाय करना चाहता हूं मुझे मशीन दिलवाने की कृपा प्रदान की जाए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *