Uncategorized

Best Business – Cello Tape Making – BOPP Tape Making Business Hindi

bopp tape machine
Written by Shakti Mishra

सेलो टेप के माध्यम से बनाये सुनहरा भविष्य

मित्रों,
आज हम एक ऐसे लघु उद्योग की चर्चा करने जा रहे हैं जो वर्तमान परिवेश में लोगों के आवश्यकता की वस्तु बनता जा रहा है। इस लघु उद्योग का नाम सेलो टेप निर्माण है जिसके माध्यम से आप कहीं भी अपनी सुविधानुसार इस व्यवसाय को प्रारम्भ कर सकते हैं और अपनी पूँजी के लागत के हिसाब से उसी अनुपात में मुनाफा भी कमा सकते हैं। इसके लिये आवश्यक है कि आप इस लेख को बड़ी तन्मयता के साथ पढें जिससे आपको यह पता लग सके कि इस कारोबार की शुरुआत कैसे की जा सकती है, कारोबार की शुरुआत करने के लिये कच्चा माल कैसे, कहाँ से, कितना और किस प्रकार प्राप्त किया जा सकता है, किन विधियों का प्रयोग करने से व्यवसाय में न्यूनतम लागत डालने पर भी अधिकतम मुनाफा कमाया जा सकता है।

सेलो टेप की आवश्यकता एवं उपयोगिता, एक नजर में।

मित्रों, वर्तमान समय जो व्यक्ति के लिये भागमभाग, आपाधापी और व्यस्तताओं से भरा हुआ है जहाँ पर व्यक्ति को एक जगह से दूसरी जगह दूसरे से तीसरा और तीसरे से चौथा ऐसा करते करते बीत जा रहा है ऐसे समय में इस सेलो टेप की उपयोगिता प्रासंगिकता और आवश्यकता अनिवार्य बन जाती है। इसका कारण यह है कि व्यक्ति जब एक जगह दूसरी जगह स्थानान्तरित होता है तो उसे अपने सामानो की पैकिंग करनी होती है और इस पैकिंग की प्रक्रिया में सेलो टेप बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। बड़े-बड़े कार्टूनों (गत्तों) को बड़ी आसानी से इसी सेलो टेप के द्वारा पलक झपकते ही बन्द कर दिया जाता है जो अन्य उपकरणों के लिये टेढ़ी खीर साबित होता है। सेलो टेप का उपयोग गिफ्ट के सामान, फूलों का गुलदस्ता, शैक्षिक गतिविधियों में ( जैसे फाइलों में बच्चों के द्वारा चित्रों को चिपकाना आदि) जमकर किया जाता है। शादी-विवाह, जन्मदिवस आदि अवसरों पर सेलो टेप की भूमिका को नजरअन्दाज करना बड़ा मँहगा साबित हो जायेगा। दूल्हे की गाड़ी सजानी हो, दुल्हन के लिये शादी का मण्डप सजाना हो, स्थान–स्थान पर झण्डियाँ, झालर, प्राकृतिक या कृत्रिम फूलों से सुन्दरीकरण करना हो यह सभी कार्य बिना सेलो टेप के असम्भव से जान पड़ते हैं। इसके अतिरिक्त नंगे एवं कटे हुए बिजली के तारों पर सेलो टेप का उपयोग उसकी महत्ता को सिद्ध करने के लिये पर्याप्त है। चिकित्सा के क्षेत्र में दवाईयों के बण्डलों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुँचानें में सेलो टेप महत्वपूर्ण योगदान देता है।

सेलो टेप के कारोबार के लिये कच्चा माल एवं आवश्यक मशीनरी

इस कारोबार को शुरु करने के लिये जिन-जिन वस्तुओं एवं मशीनरी की आवश्यकता होती है उनकी सूची निम्न प्रकार है।

1- कोर कटिंग मशीन
2- गोल पाइप की तरह बना कागज का लम्बा लट्ठा
3- गम लगे हुए टेप का बण्डल
4- वी0 ओ0 पी0 पी0 टेप कटिंग मशीन

सेलो टेप निर्माण करने की उपर्युक्त जो मशीने हैं उन मशीनों की कीमत बाजार में 85000 रुपयें के लगभग है। या फिर सीधे आप इन मशीनों को निर्मित करने वाली कम्पनियों से सम्पर्क स्थापित करके इन मशीनों को वहाँ से खरीददारी कर सकते हैं। इस प्रकार आप सस्ते व उचित मूल्य पर मशीनों को प्राप्त कर सकेंगे। जहाँ तक कच्चे माल की प्राप्ति का सवाल है तो आप बाजार से इन वस्तुओं को उठा सकतें हैं नहीं तो गूगल में सर्च करके आनलाइन खरीदादारी भी कर सकते हैं जो कि काफी मुफीद रहेगा। यह हमारा सुझाव है क्योंकि कच्चे माल की खरीददारी किलो के भाव से होती है जबकि इसकी बिक्री मीटर के हिसाब से होती है।

सेलो टेप के कारोबार से सम्बन्धित कानूनी दाँव-पेंचः-

सर्वप्रथम आप अपने इस लघु उद्योग का उद्योग आधार डाट काम में पंजीकरण करवा ले या स्वयं कर लें। यह पंजीकरण पूर्णतया निःशुल्क है और साथ ही साथ वस्तु सेवा कर अर्थात जी0 एस0 टी0 में भी पंजीकरण करवा कर जी0 एस0 टी0 नम्बर प्राप्त कर लें ताकि उद्योग प्रारम्भ करने के बाद किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े। लगे हाथ अपने बिजनेस के लिये लेन-देन सम्बन्धी पक्की रसीद बनवाँ लें।

सेलो टेप की निर्माण की विधि एवं प्रक्रियाः-

1-  सेलो टेप निर्माण की प्रक्रिया के अन्तर्गत सर्वप्रथम हम कोर कटिंग मशीन की सहायता से जिस साईज का या जिस
आकार का सेलो टेप निर्मित करना है उस साईज का कोर कागज के लट्ठे से काट लेते हैं।
2-  फिर कटे हुए कागज के कोरों को वी0 ओ0 पी0 पी0 मशीन में निर्धारित स्थान पर लगा देते हैं।
3-  हमें जिस चौड़ाई के टेपों की आवश्यकता होती है उस चौड़ाई के कोर को मशीन में सेट कर दिया जाता है।
4-  इसके बाद मशीन के दूसरी तरफ गम लगे हुए टेप के बण्डल को निर्धारित स्थान पर सुविधाजनक तरीके से स्थापित
कर देते हैं।
5-  फिर मशीन को आन कर देते हैं। इस प्रक्रिया में हम देखेंगे कि मशीन के बोर्ड पर तीन अलग-अलग तरह के स्विच
या बटन दिये होते हैं जिसमें एक बटन मशीन को आन करने के लिये, दूसरा मशीन की गति को धीमा अथवा तीव्र
करने के लिये और तीसरा मशीन को बन्द करने के लिये।
6-  इसके अलावा हमें जितने मीटर टेप के बण्डलों का निर्माण करना है, मशीन में पहले से तय कर देते हैं जिससे
अपेक्षित मात्रा में टेप निर्मित होने के पश्चात् मशीन स्वतः टेप बनाना बन्द कर दे।
7-  हम इस मशीन की सहायता से आधा इन्च, एक इन्च , दो इन्च , तीन इन्च आदि चौड़े साईजों के टेप के बण्डलों
का निर्माण बहुत आसानी से कर सकते हैं।
इस तरीके से बने हुए टेप के बण्डलों को मजबूत पालीथीन, प्लास्टिक के पैकेट अथवा कागज के गत्तों में पैकिंग करके बड़ी आसानी से स्थानीय बाजारों में उतारा जा सकता है और कम समय में भारी मुनाफा कमाया जा सकता है।

स्मार्ट आइडियाः-  दोस्तों, यह सारभौम सच है कि परिश्रमी व्यक्ति का सम्मान पूरी दुनिया करती है और परिश्रम किसी अन्य वस्तु का कभी मोहताज नही होता। यह जिस क्षेत्र में जिस तरीके से लगाया जाता है। वहाँ पर वैसा ही परिणाम दिखाई देने लगता है। अतः जरुरत इस बात की है कि हम अपने पास आये हुए अवसर को पहचाने और कुछ कर दिखाने की निश्चयात्मक शक्ति के साथ अपने कर्म को करते रहें।

About the author

Shakti Mishra

Shakti Mishra is a business man by profession, YouTuber by passion and a blogger. He was homeless staying on footpath of Bangalore city. After success in business, he has started working for unemployed people in his country to create more jobs & provide business ideas to people.

Leave a Comment