Home Based Small Business

Hand Wash Making Business हैण्ड वाश बनाने का व्यवसाय

हैण्ड वाश बनाने का व्यवसायः- Hand Wash Making Business

मित्रों आज हम इस लेख के माध्यम से हैण्ड वाश निर्माण के बारे में विस्तारपूर्वक चर्चा करेंगे। जैसे- किन-किन वस्तुओं के मिश्रण से हैण्ड वाश का निर्माण किया जा सकता है, इसके निर्माण में कितने लागत की सम्भावना होती है, कितने स्थान में हैण्ड वाश का व्यवसाय सफलतापूर्वक शुरु किया जा सकता है, इसके निर्माण की प्रक्रिया क्या है, कौन-कौन से कानूनी आवश्यकताओं को पूरा करना आवश्यक होता है, इस प्रकार के व्यवसाय में व्यक्ति को किस प्रकार और कितना मुनाफा हो सकता है, बने हुए हैण्ड वाश की पैकिंग कैसे होती है, निर्मित हैण्ड वाश को बाजार में उतारने के लिये और विक्रय हेतु क्या-क्या आवश्यक कदम उठाने पड़ते हैं आदि सभी बातों को जानने के लिये आप गम्भीरतापूर्वक इस लेख को ध्यान से पढ़ लें।

हैण्ड वाश की उपयोगिता कभी समाप्त नहीं होगी

हैण्ड वाश एक ऐसा घरेलू उपकरण है जिसका प्रयोग एवं उपयोग दिन प्रतिदिन सिवाय बढ़ने के कम नही हो सकता है। इसका कारण यह है कि समय गुजरने के साथ ही जनसंख्या मे लगातार वृद्धि हो रही है जिसके परिणामस्वरुप हैण्डवाश के उपभोक्ताओं की संख्या में भी इजाफा होता चला जा रहा है। लोग शौच आदि कर्मों से निवृत होने के बाद हाथ को साफ करने के लिये साबुन के स्थान पर हैण्डवाश का इस्तेमाल ज्यादा बेहतर समझते हैं। हैँण्डवाश का प्रयोग साबुन के मुकाबले कहीं ज्यादा सुरक्षित आरामदेह और सुविधाजनक माना जाता है। हैँण्डवाश का प्रयोग संक्रमण आदि को पनपने से रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आजकल लगभग हर घर में हैण्डवाश का प्रयोग किया ही जाता है इसका कारण यह है कि यह आसानी से स्थानीय बाजारों मे उपलब्ध होता है, कम पैसे में मिल जाता है तथा इसका प्रयोग काफी आसान व सुविधाजनक होता है। इतना ही नहीं बड़े-बड़े महानगरों में, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, अस्पताल तथा सार्वजनिक जगहों पर बने हुए सामुदायिक शौचालयों में भी हाथों को स्वच्छ करने के लिये हैण्ड वाश लोगों का महत्वपूर्ण संसाधन है। इसके लोकप्रिय होने का एक कारण यह भी है कि इसके इस्तेमाल की प्रक्रिया इतनी सहज है कि सामान्य रुप से पढ़ा लिखा व्यक्ति अथवा बिना पढ़ा लिखा व्यक्ति या महिलायें बगैर कठिनाई के प्रयोग कर सकती हैं।

हैण्ड वाश निर्माण के लिये आवश्यक सामग्री (कच्चा माल)

हैण्ड वाश निर्माण में निम्न आवश्यक सामग्री की आवश्यकता होती है। (एक लीटर हैण्ड वाश बनाने के लिये)
1- 850 ग्राम पानी         2- थोड़ा सा कलर          3- 50 ग्राम एसेलेस (सोडियम लारेल सल्फेट)
4- 2 ग्राम परफ्यूम          5- 20 ग्राम सी0 एल0 पी0 पी0
6- 20 ग्राम सी0 डी0 लिक्विड 7- कलर व नमक            8- प्लास्टिक की बकेट
यह एक ऐसा व्यवसाय है जो महज पाँच हजार रुपये में आसानी से शुरु किया जा सकता है।

कच्चे माल की खरीददारी कैसे और कहाँ से करें।

ऊपर दी गयी जितनी भी सामग्रियाँ हैं वह बड़ी आसानी से स्थानीय बाजारों में उपलब्ध होती हैं जहाँ से आप बड़ी सरलता से इनकी खरीददारी कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त गूगल में सर्च करके आनलाईन खरीददारी बड़ी ही सहजता से कर सकते हैं।

हैण्ड वाश निर्माण की प्रक्रिया एवं विधिः-
यदि हम एक लीटर हैण्ड वाश निर्माण की मात्रा की बात करें तो इसके लिये हमको 850 ग्राम पानी की आवश्यकता होती है। इस पानी को एक चौड़े मुँह के प्लास्टिक के बकेट में डाल देते हैं इसके बाद हम इसमें 50 ग्राम एसेलेस डालते हैं यानी की 50 ग्राम सोडियम लारेल सल्फेट मिलाते हैं। अब इसी मिश्रण के अन्तर्गत 2 ग्राम परफ्यूम मिला देते हैं ताकि निर्मित हैण्डवाश सुगन्धित बन सके। अब एसेलेस और परफ्यूम के बने हुए मिश्रण को पानी में डालकर अच्छी तरीके से मिलाने के लिये या तो मिक्सर मशीन की सहायता लेते है अथवा किसी लकड़ी के डण्डे की सहायता से मिला देते हैं। अब इसके बाद 20 ग्राम सी0 एल0 पी0 पी0 तैयार मिश्रण में मिला देते हैं। फिर इसी मिश्रण में 20 ग्राम सी0 डी0 लिक्विड भी मिला देते हैं। तैयार घोल को रंगीन बनाने के लिये अपनी पसन्द के अनुसार थोड़ा सा कलर मिलाते हैं और पानी में रंग को अच्छी तरीके से मिश्रित करने के लिये मिक्सर मशीन अथवा लकड़ी के डण्डे से भली प्रकार घुमा-घुमाकर मिला देते हैं। बने हुए मिश्रण में थोड़ा सा नमक डालते हैं और इसलिये डालते हैं कि घोल का थिकनर बेहतरीन तरीके से तैयार हो जाय। जब तक घोल गाढ़ा न हो जाय तब तक थोड़ी-थोड़ी देर पर घोल के अन्दर जरा-जरा सा नमक हाथ से घुमाते हुए डालते रहें। डालने के दौरान यह निरीक्षण भी करते रहें कि घोल गाढ़ा हो चुका है अथवा नहीं। जब घोल बनकर तैयार हो जाय और इसमें गाढ़ापन दिखाई देने लगे तो बने हुए घोल को आठ घण्टे तक छोड़ देते हैं। आठ घण्टे के पश्चात आपका हैण्डवाश हाथ धोने के लिये पैकिंग के लिये और बाजार में बिक्री हेतु बनकर तैयार है।

बने हुए हैण्ड वाश के घोल को 100 मिलीलीटर, 200 मिलीलीटर अथवा 500 मिलीलीटर के खाली डिब्बों में पैकिंग की प्रक्रिया शुरु करते हैं। यदि आप चाहें तो आप के नाम की ब्रांडिंग वाले स्टीकर लगे हुए हैण्ड वाश के डिब्बे मिल जायेंगे बस इसके लिये आपको पहले से डिब्बा तैयार करने वाली कम्पनियों से सम्पर्क साधकर इसकी पूर्व सूचना देनी होगी।

कानूनी प्रक्रिया एवं स्थान का चुनावः-

कोई भी व्यवसाय शुरु करने से पहले बुद्धिमान व्यक्ति उस व्यवसाय से सम्बन्धित सारी विधिक प्रक्रियाओं को भली-भाँति पूरा कर लेता है जिससे व्यवसाय प्रारम्भ करने पर किसी भी प्रकार की असुविधा से बचा जा सके।
इसके लिये यह आवश्यक है कि उद्योग आधार में अपने व्यवसाय का पंजीकरण करा लें। इसका पंजीयन आनलाईन होता है एवं निःशुल्क होता है। इसके साथ ही साथ वस्तु एवं सेवा कर (जी0 एस0 टी0) में भी पंजीयन करा लें।
अपने व्यवसाय के नाम की पक्की रसीद अवश्य बनवा लें।
हैण्डवाश के व्यवसाय को शुरु करने के लिये आप अपने सामर्थ्य के अनुसार छोटे अथवा बड़े कमरे या बरामदे (हाल) का चुनाव कर सकते हैं फिर आवश्यकतानुसार व्यवसाय को बढाने के क्रम में स्थान का आकार प्रकार उसी अनुपात में बढ़ाते चले जाते हैं।

स्मार्ट आइडियाः- मित्रों, आज का भारत निःसन्देह अपार सम्भावनाओं से भरा हुआ है बस आवश्यकता इस बात की है कि दूर देशों में नौकरियों की तलाश में भटकने के बजाय अपने देश, अपने लोगों के बीच रहकर कुछ ऐसा किया जाय जिससे अपनी आजीविका बड़ी आसानी से चलायी जा सके और दूसरों को भी इस बात के लिये उत्साहित किया जा सके।

About the author

Shakti Mishra

Shakti Mishra is a business man by profession, YouTuber by passion and a blogger. He was homeless staying on footpath of Bangalore city. After success in business, he has started working for unemployed people in his country to create more jobs & provide business ideas to people.

Leave a Comment